Logo

कोरोना के सामने दीवार बनकर खड़े हैं ‘धरती के भगवान’, कर रहे देखभाल।

by / 0 Comments / 14 View / March 24, 2020

24 मार्च 2020 – गोरखपुर ,एजेंसी:  खिलाफ लड़ाई में स्वास्थ्य महकमा पूरी तरह मुस्तैद है। लोगों को कहते सुना जा रहा है ये ‘धरती के भगवान’ हैं जो कोरोना के सामने दीवार बनकर खड़े हैं। देश-विदेश से आने वाले संदिग्धों की जांच और इलाज में बगैर कोई देर किए पूरी मुस्तैदी बरतकर ये समाज और देश के प्रति अपने कर्तव्यों का बखूबी निर्वहन कर रहे हैं। रविवार को जनता कर्फ्यू के बीच जिला अस्पताल में बने आइसोलेशन वार्ड और कोरोना मरीजों के अलग वार्ड में डॉक्टरों के साथ स्टॉफ नर्स और वार्ड ब्वाय की टीम हर स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार नजर आई।

डॉक्टर राजेश कुमार ने बताया कि महामारी को रोकने के लिए हर संभव जतन करने के लिए संकल्पित हूं।  सुनहरा मौका मिला है जनमानस की सेवा करने का। ऐसे मौके जिदंगी में बार-बार नहीं आते हैं। चिकित्सक की डिग्री लेते समय जो संकल्प लिया था उसे पूरा कर रहा हूं।कोरोना वार्ड में तैनात डॉक्टर बीके सुमन ने बताया कि वायरस को लेकर पूरी दुनिया चिंतित है।

इन सबके बीच परिवार भी हमारी चिंता करता हैं। परिवार के लोग सलाह देते है कि दूरी बनाएं रखें। लेकिन ऐसा नहीं हो पाता। खुशी इस बात की है कि अब तक कोई मरीज नहीं मिला है। फिर भी हमारी टीम मुस्तैद है।

फार्मासिस्ट अरविंद कुमार सिंह ने बताया कि किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह मुस्तैद हैं। परिजन चिंतिंत हैं लेकिन कर्तव्य मार्ग से पीछे नहीं हट सकते हैं। वार्ड में जाने पर नर्सिंग के स्टॉफ सुरक्षा किट का प्रयोग कर रहे हैं। ड्यूूटी पर आते के साथ ही लगातार हाथ भी धुल रहे है।

कोरोना के मरीजों के इलाज के लिए बनाए गए विशेष वार्ड में 20 से अधिक लोगों की टीम मुस्तैद है। जिला अस्पताल के एसआईसी डॉ. एके सिंह ने बताया कि डॉ. बीके सुमन, डॉ. राजेश कुमार, फार्मासिस्ट अरविंद कुमार सिंह के साथ ही 20 से अधिक लोगों की टीम कोरोना वार्ड में तैनात है। अलग-अलग शिफ्ट में सबकी ड्यूटी लगाई गई है।

Your Commment

Email (will not be published)