Logo

ऑटोमोबाइल सेक्टर में घुसा कोरोना, 1500 गाड़ियां फंसी….

by / 0 Comments / 9 View / March 23, 2020

23 मार्च 2020 – गोरखपुर ,एजेंसी:  ऑटोमोबाइल सेक्टर में कोरोना वायरस का असर साफ दिख रहा है। बीएस-4 मानक की सैकड़ों गाड़ियां अभी भी शो-रूम और गोदामों में खड़ी हैं। जनता कर्फ्यू के बाद लॉकडाउन बढ़ता देख एजेंसी मालिकों की धड़कनें बढ़ने लगी हैं। बाइक और स्कूटर मिलाकर विभिन्न कंपनियों की 1500 से अधिक गाड़ियां फंस गई हैं। शोरूम के शटर गिरने और ग्राहकों की आमद न होने से एजेंसी मालिकों की नजर बिक्री की समयसीमा बढ़ाए जाने को लेकर सरकार की तरफ है।

बीएस-4 मानक की गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन 31 मार्च तक ही होना है। उसके बाद बीएस-6 मानक की ही गाड़ियां बिकेंगी। हीरो, एक्टिवा, बजाज, टीवीएस, यामहा से लेकर होंडा की पापुलर ब्रांड की गाड़ियां तो आउट ऑफ स्टाक हो गई हैं, लेकिन कई मॉडल की गाड़ियों की बिक्री पर संकट है। बीएस-6 मानक की गाड़ियों की उपलब्धता से लोग बीएस-4 को तरजीह भी नहीं दे रहे हैं।
हीरो कंपनी की बाइक और स्कूटर की बिक्री करने वाले एजेंसी मालिक नितिन मातनहेलिया का कहना है कि ‘शो-रूम में 100 से अधिक बाइक और स्कूटर बची हुई हैं। कंपनियां इन गाड़ियों पर 3 हजार से 15 हजार तक की छूट दे रही है। इसके बावजूद खरीदार नहीं मिल रहे हैं। आरटीओ की तरफ से सभी एजेंसी मालिकों को हिदायत दी जा चुकी है कि गाड़ियों की बिक्री 25 मार्च तक सुनिश्चित कर लें, तभी 31 तक रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया आसान हो सकेगी।भीमसेन सिंह गौतम, आरटीओ प्रशासन ने बताया कि 
बीएस-4 मानक की गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन 31 मार्च तक ही होना है। इसके बाद इनकी बिक्री नहीं हो सकती है। कोरोना के बढ़ते प्रकोप और बंदी को देखते हुए एजेंसी मालिकों के समक्ष संकट है। तारीख बढ़ाने को लेकर सरकार की तरफ से अभी कोई दिशा-निर्देश नहीं मिला है।

Your Commment

Email (will not be published)